हिंदुत्व का गणितीय, खगोलीय, चिकित्सा एवं वैज्ञानिक क्षेत्रो में योगदान पर एक संक्षिप्त दृष्टि



भारतीय सनातन धर्म हिंदुत्व का गणितीय, खगोलीय, चिकित्सा एवं वैज्ञानिक क्षेत्रो में योगदान पर एक संक्षिप्त  दृष्टि :-

Share:

मूल चाणक्य नीति से कुछ अंश




आज से करीब 2300 साल पहले पहले पैदा हुए चाणक्य भारतीय राजनीति और  अर्थशास्त्र के पहले विचारक माने जाते हैं। पाटलिपुत्र (पटना) के शक्तिशाली  नंद वंश को उखाड़ फेंकने और अपने शिष्य चंदगुप्त मौर्य को बतौर राजा  स्थापित करने में चाणक्य का अहम योगदान रहा। ज्ञान के केंद्र तक्षशिला  विश्वविद्यालय में आचार्य रहे चाणक्य राजनीति के चतुर खिलाड़ी थे और इसी  कारण उनकी नीति कोरे आदर्शवाद पर नहीं, बल्कि व्यावहारिक ज्ञान पर टिकी है।  आगे दिए जा रहीं उनकी कुछ बातें भी चाणक्य नीति की इसी विशेषता के दर्शन  होते हैं :

Share: