झाड़ू के बारे में रखिये इन बातो ध्यान जो आपको बना देगें धनवान

झाड़ू एक घरेलू उपयोग का उपकरण है जिसे घरों में साफ सफाई के लिए प्रयोग किया जाता है।  प्रायः स्थानीय स्तर पर प्रयुक्त घास, पत्तियाँ, पौधे ही झाड़ू बनाने में काम आते थे। किन्तु आजकल कृत्रिम फाइबर के भी झाड़ू बनने लगे हैं।


हमने अकसर अपने घर के बड़े-बुजुर्गों को यह कहते हुए सुना होगा कि यह काम मत करो, ऐसा मत करो,  नल टपकने मत दो, झाड़ू को पैर मत लगाओ,  इसका आदर करो किंतु हम उनकी बातें सुनकर अनसुनी कर देते हैं और सोचते हैं कि ये सिर्फ ऐसे ही बोलते रहते हैं। लेकिन क्या आपको पता है  कि यही बातें हमारे जीवन में हमें सुख-समृद्धि, धन-दौलत, सौभाग्य-दुर्भाग्य का रास्ता बताती है। झाडू के बारे में हमारी सोच रहती है कि ये सिर्फ साफ-सफाई में ही प्रयोग की जाती है, लेकिन क्या आपको पता है कि कई जगह दीपावली के दिन पूजा करते वक्त झाडू की भी पूजा की जाती है दीपावली के दूसरे दिन परीवा को घर बुहारना निषेध है. तो आइए जानते है झाडू से जुड़ी बातें

- पौराणिक ग्रंथों में कहा गया है सूर्यास्त के बाद घर में झाड़ू पोंछा गलती से भी नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करना अपशकुन माना जाता है।
- स्वप्न में नई झाड़ू लेकर अपने आपको खड़ा देखना सौभाग्य का प्रतीक होता है।
- झाड़ू को कभी भी खड़ी करके नहीं रखना चाहिए। यह अपशकुन माना गया है। घर में झाडू को उलटा रखना अपशकुन माना जाता है।


- परिवार के किसी भी सदस्य के बाहर जाते ही तुरंत झाड़ू लगाना भी अशुभ होता है।
- अगर वह दूरस्थ स्थान की यात्रा पर गया हो तो उन्हें मृत्यु तुल्य कष्ट होने के योग बन सकते हैं।
- अतः उनके जाने के बाद 1 या 2 घंटे बाद झाड़ू-पोंछा किया जाना चाहिए।


- झाड़ू पर गलती से भी पैर नहीं रखना चाहिए। इसका अर्थ घर की लक्ष्मी को ठोकर मारना है। ऐसा होने पर लक्ष्मी रूठ जाती हैं। यह अपशकुन है।
- अगर हम झाड़ू का आदर करते हैं, तो यह महालक्ष्मी की प्रसन्नता का संकेत है।
- नया घर/भवन बनाने के पश्चात उसमें पुराना झाड़ू ले जाना अपशकुन माना जाता है एवं यह अशुभ होता है।

- यह बात हमेशा ध्यान रखने योग्य है कि झाड़ू को कभी भी घर से बाहर अथवा छत पर नहीं रखना चाहिए। ऐसा करना अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से घर में चोरी की वारदात होने का भय उत्पन्न होता है।
- यदि घर में कोई छोटा बच्चा अचानक झाड़ू लगाने लगे तो घर में अनचाहे मेहमान आने के योग बनते हैं।
- झाड़ू को हमेशा छिपाकर रखना चाहिए। ऐसी जगह पर रखना चाहिए जहां से झाड़ू हमें, घर या बाहर के किसी भी सदस्यों को दिखाई न दें।

- भोजन कक्ष, अन्न भंडारण कक्ष व रसोईं में झाड़ू न रखें, क्योंकि इससे घर का अनाज जल्दी खत्म हो सकता है। साथ ही, स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
- यदि अपने घर के बाहर हर रोज रात के समय दरवाजे के सामने झाड़ू रखते हैं तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती है। ये काम केवल रात के समय ही करना चाहिए। दिन में झाड़ू छिपा कर रखें।

- कभी भी गाय या किसी अन्य जानवर को झाड़ू से नहीं मारना चाहिए। यह अपशकुन माना गया है।